Weather Report : यूपी-उत्तराखंड के लिए अलर्ट जारी ,दुर्गा पूजा में खलल डाल सकती है बारिश

By YOGESHWARI

Weather  | 12:00:00 AM

title

DELHI :

दुर्गा पूजा, दशहरा से लेकर पूरे त्योहारी सीजन को लेकर पूरे देश में गजब का उत्साह है। जगह-जगह पंडाल सजे हैं और बाजार भी गुलजार हैं, लेकिन बारिश इस त्योहारी सीजन में परेशानी का सबब बन सकती है। मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, पूरे पश्चिम बंगाल में अगले 72 घंटे में भारी बारिश हो सकती है। ऐसे में दुर्गा पूजा के जश्न में खलल जरूर पड़ सकता है।

IMD की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में बनने वाली प्रणाली के मद्देनजर, ओडिशा, झारखंड और गंगीय पश्चिम बंगाल में 4 अक्तूबर तक बारिश जारी रहेगी। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बंगाल की उत्तरपूर्वी खाड़ी के ऊपर बना हुआ है और समुद्र तल से 5.8 किमी तक फैला हुआ है। यह प्रणाली अगले तीन दिनों तक सक्रिय रहने और पूरे दक्षिण बंगाल में रुक-रुक कर बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग ने इस अवधि के दौरान दक्षिण बंगाल के अधिकांश हिस्सों में मध्यम बारिश और पुरबा और पश्चिम मेदिनीपुर, दक्षिण और उत्तर 24 परगना और बीरभूम जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश की भविष्यवाणी की है।

यूपी-उत्तराखंड के लिए अलर्ट जारी
मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के लोगों को आने वाले दिनों में भारी बारिश से कोई राहत नहीं मिलने वाली है। इन दोनों राज्यों में भारी बारिश की भविष्यवाणी जारी की गई है। मध्य और पूर्वोत्तर क्षेत्रों में मंगलवार से भारी बारिश शुरू हो सकती है। आईएमडी के मौसम बुलेटिन में कहा गया है कि हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में 06 अक्तूबर से अगले 2-3 दिनों के लिए भारी बारिश शुरू होने की संभावना है।

राजधानी दिल्ली में कल से करवट लेगा मौसम
मौसम विभाग के पूर्वानुमान की मानें तो राजधानी दिल्ली समेत कुछ राज्यों में चार अक्तूबर से मौसम करवट लेना शुरू होगा। और दिल्ली-एनसीआर में बारिश हो सकती है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि बंगाल की खाड़ी में निम्न दाब का क्षेत्र बनने की वजह से दिल्ली-एनसीआर में एक बार फिर बारिश का संयोग बन रहा है, ऐसे में लगातार दो से तीन दिनों तक बारिश की संभावना बनी हुई है।

मध्य प्रदेश के कई जिलों में बारिश की चेतावनी
मध्य प्रदेश में मौसम एक बार फिर बदल सकता है। दो सिस्टम प्रदेश के मौसम पर असर डाल रहे हैं। मौसम विभाग का पूर्वानुमान भी कई जिलों में बारिश की चेतावनी दे रहा है। पूर्वानुमान कहता है कि रायसेन, बैतूल, अलीराजपुर, धार, इंदौर, खरगोन, उज्जैन, बड़वानी जिलों में कहीं-कहीं वर्षा या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। भोपाल में बादल बने रहेंगे। मौसम तो शुष्क रहेगा। हवा 18 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलेगी।

घाटी से लौट रहा मानसून
जम्मू कश्मीर के कई पहाड़ी इलाकों से मानसून लौट रहा है। पिछले कुछ सालों की तुलना में इस बार सामान्य से 15 से 20 दिन देरी से मानसून लौटेगा। जम्मू कश्मीर में अमूमन 15 सितंबर तक मानसून लौट जाता है, लेकिन मौसम में उतार चढ़ाव से अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है। मौसम विज्ञान केंद्र श्रीनगर के निदेशक सोनम लोट्स के अनुसार देश के अन्य राज्यों की तरह जम्मू कश्मीर के कुछ पहाड़ी क्षेत्रों से मानसून वापस चला गया है। आगामी दिनों में यह पूरी तरह से लौट जाएगा। इस बीच मौसम साफ रहने से जम्मू समेत कई जिलों में दिन में तपिश के साथ उमस का अहसास बरकरार है।

पूर्वोत्तर राज्यों में भी बारिश के आसार
पूर्वोत्तर क्षेत्रों में भी मंगलवार से बारिश होने की संभावना है। असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के अलग-अलग क्षेत्रों में गरज के साथ बारिश के आसार बन रहे हैं।

ओडिशा के लिए येलो अलर्ट
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने अगले पांच दिनों के लिए ओडिशा के कई जिलों में बिजली गिरने के साथ भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। 3 अक्तूबर से 7 अक्तूबर तक राज्य के कुछ हिस्सों में गरज के साथ बारिश और बिजली गिरने की संभावना है।

#WEATHER
WhatsApp      Gmail